रोहिंग्या मुसलमानों पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामा केंद्र सरकार ने किया होल्ड, कहा करेगी बदलाव

रोहिंग्या मुसलमानों पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामा केंद्र सरकार ने किया होल्ड, कहा करेगी बदलाव

रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस म्यांमार भेजने के मामले में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया था, लेकिन बाद में उसे होल्ड पर रखने की अपील की. साथ ही कहा कि सरकार इसमें बदलाव के साथ फिर दाखिल करेगी.

इससे पहले दाखिल हलफनामें में कोर्ट में सरकार ने कहा था कि रोहिंग्या भारत में नहीं रह सकते हैं. रोहिंग्या देश की सुरक्षा के लिए खतरा हैं. सरकार को ये खुफिया जानकारी मिली है कि कुछ रोहिंग्या आतंकी संगठनों के साथ मिले हुए हैं. सुप्रीम कोर्ट को इस मामले में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए क्योंकि ये मौलिक अधिकारों के तहत नहीं आता है. ये संविधान के अनुच्छेद 32 के तहत नहीं आता है.

बता दें कि देश में करीब 40 हजार रोहिंग्या मुस्लिम अवैध तौर पर रह रहे हैं. भारत सरकार संयुक्त राष्ट्र संघ के नियमों के अनुरूप कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र है. सुप्रीम कोर्ट 18 सितंबर को सुनवाई करेगा.

रोहिंग्या मुस्लिम को लेकर हलफ़नामे पर केंद्र सरकार की तरफ से मामले में एक पक्षकार को एक पत्र लिखा गया है. जिसमें कहा गया है कि जो हलफ़नामा उन्हें केंद्र सरकार का दिया गया वो गलती से उन्हें दिया गया. रोहिंग्या मुस्लिमों को लेकर केंद्र सरकार हलफ़नामा अभी तैयार कर रही है. जो हलफ़नामा आपको सर्व किया गया है वो फाइनल नहीं है. ऐसे में जो कॉपी आपको दी गई है उंसको केंद्र सरकार का जवाब न समझा जाये.

उल्लेखनीय है कि रोहिंग्या मुसलमानों के कथित उत्पीड़न के खिलाफ अलग-अलग तबके के करीब तीन-चार सौ लोगों ने बुधवार को दिल्ली में म्यांमार के दूतावास के बाहर प्रदर्शन किया था.

जानकारी दे दें कि म्यामांर में हिंसा के बाद हजारों रोहिंग्या मुस्लिम भागकर बांग्लादेश आ गए हैं. लेकिन मजबूरी में रोहिंग्या मुस्लिमों को बांग्लादेश के उस सुदूर द्वीप पर बसना पड़ सकता है, जिस पर हर साल बाढ़ आती है.





ताज़ा खबरे

आम आदमी पार्टी को मिला दफ्तर खाली करने के लिए कारण बताओ नोटिस

कानपुर: डीपीएस के छात्र ने स्कूल में प्रताड़ना के चलते किया सुसाइड का प्रयास, लिखा- मैं टेरेरिस्ट नहीं

श्रीलंका: बौद्ध भिक्षु के नेतृत्व में भीड़ ने किया रोहिंग्या शरणार्थियों पर हमला

असम में दो से ज्यादा बच्चे वालों को नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी, नहीं लड़ सकेंगे स्थानीय चुनाव

रोहिंग्या संकट पर सू ची ने तोड़ी चुप्पी, कहा- बेगुनाहों के बेघर होने का दुख

रोहिंग्या मुसलमानों के जनसंहार के विरोध में आज पार्लियामेंट मार्च

रोहिंग्या मुसलमानों को वापस भेजने की मोदी सरकार की योजना का SC में विरोध करेगा मानवाधिकार आयोग

पहलू खान के बेटे ने कहा- पुलिस ने मुझसे पहचान तक नहीं करवाई और आरोपियों को दे दी क्लीन चिट

रोहिंग्या मुस्लिमों के हक के लिए 16 सितंबर को पार्लियामेंट मार्च

रोहिंग्या मुसलमानों पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामा केंद्र सरकार ने किया होल्ड, कहा करेगी बदलाव

Copyright © Live All rights reserved

About Dainiksurya | Contact Us | Editorial Team | Careers | www.dainiksurya.com. All rights reserved.