कानपुर: डीपीएस के छात्र ने स्कूल में प्रताड़ना के चलते किया सुसाइड का प्रयास, लिखा- मैं टेरेरिस्ट नहीं

कानपुर: डीपीएस के छात्र ने स्कूल में प्रताड़ना के चलते किया सुसाइड का प्रयास, लिखा- मैं टेरेरिस्ट नहीं

कहते हैं कि स्कूल शिक्षा का मंदिर होता और शिक्षक भगवान का रूप। स्कूल में सबके साथ एक समान व्यव्हार किया जाता है लेकिन यदि टीचर ही छात्र को मरने पर मजबूर कर दे तो आप इसके लिए क्या कहेंगे?

कानपुर में एक ऐसा ही मामले सामने आया जहां अर्श मोहम्मद नाम के एक छात्र ने मुस्लिम होने के कारण स्कूल में रोज़-रोज़ की प्रताड़ना और अपमान से तंग आकर आत्महत्या करने की कोशिश की है।

अर्श कानपुर के स्वरूप नगर का रहने वाला है और डीपीएस में 11वीं का छात्र है। कानपुर के एक प्राइवेट अस्पताल में एडमिट अर्श ने बताया कि उसने स्कूल में होने वाली प्रताड़ना के चलते आत्महत्या की कोशिश की और नींद की गोलियां खाने के बाद फिनायल पी लिया। जिसके बाद उसे एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया।

छात्र ने आत्महत्या करने से पहले एक सुसाइट नोट लिखा जिसमें उसने स्कूल के 4 टीचरों के खिलाफ आरोप लगाया है वह उस पर गलत इल्जाम लगाकर उसे प्रताड़ित करती थी साथ ही अर्श ने यह भी लिखा कि मेरे मर जाने के बाद प्लीज़ आप इन्हें मत छोड़ना।

जानकारी के अनुसार फिलहाल अर्श की हालत में पहले से सुधार है। होश में आने के बाद छात्र ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई है कि मेरे ऊपर स्कूल द्वारा कई गंदे आरोप लगाए गए, बंदूक लाने की बात कहकर चेकिंग की गई। मैं भी एक स्टूडेंट हूं और अब्दुल कलाम जैसा साइंटिस्ट बनना चाहता हूं। मैं कोई टेरेरिस्ट नहीं जो स्कूल में मेरे साथ ऐसा व्हवहार किया जाता है।

डिप्टी एसपी रजनीश वर्मा के अनुसार छात्र के सुसाइड के मामले में छात्र के परिजनों ने स्कूल पर खुदकुशी के लिए उकसाने का केस दर्ज कराया है, जिसके बाद दिल्ली पब्लिक स्कूल की प्रिसिपल और 3 टीचरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। सुसाइड के लिए उकसाने पर आरोपियों के खिलाफ धारा 305 के तहत केस दर्ज किया गया है और मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।





ताज़ा खबरे

आम आदमी पार्टी को मिला दफ्तर खाली करने के लिए कारण बताओ नोटिस

कानपुर: डीपीएस के छात्र ने स्कूल में प्रताड़ना के चलते किया सुसाइड का प्रयास, लिखा- मैं टेरेरिस्ट नहीं

श्रीलंका: बौद्ध भिक्षु के नेतृत्व में भीड़ ने किया रोहिंग्या शरणार्थियों पर हमला

असम में दो से ज्यादा बच्चे वालों को नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी, नहीं लड़ सकेंगे स्थानीय चुनाव

रोहिंग्या संकट पर सू ची ने तोड़ी चुप्पी, कहा- बेगुनाहों के बेघर होने का दुख

रोहिंग्या मुसलमानों के जनसंहार के विरोध में आज पार्लियामेंट मार्च

रोहिंग्या मुसलमानों को वापस भेजने की मोदी सरकार की योजना का SC में विरोध करेगा मानवाधिकार आयोग

पहलू खान के बेटे ने कहा- पुलिस ने मुझसे पहचान तक नहीं करवाई और आरोपियों को दे दी क्लीन चिट

रोहिंग्या मुस्लिमों के हक के लिए 16 सितंबर को पार्लियामेंट मार्च

रोहिंग्या मुसलमानों पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामा केंद्र सरकार ने किया होल्ड, कहा करेगी बदलाव

Copyright © Live All rights reserved

About Dainiksurya | Contact Us | Editorial Team | Careers | www.dainiksurya.com. All rights reserved.